Online Banking | ATM | Home Loan | Educational Loan | Personal Loan | Project Loan | Pradhan Mantri Awas Yojana
Chairman Message


प्रिय सहकारी साथियों,

मैं छ. ग. राज्य सहकारी बैंक की 16वीं वार्षिक साधारण सभा में उपस्थित समस्त सम्माननीय प्रतिनिधियों एवं अतिथियों का हार्दिक स्वागत करता हूँ।

जैसा की आप जानते हैं बैंक के अध्यक्ष के रूप में मेरा यह पहला संबोधन है। मेरे द्वारा अध्यक्ष पद दिनांक 21.04.2015 को ग्रहण किया गया है। इस अल्पावधि में मैने अपना पूरा ज़ोर बैंक के विकास में लगाया जिसके फलस्वरूप मुझे नेपस्काप (National Federation of state coop. Bank) का उपाध्यक्ष पद से नवाजा गया, इसी सन्दर्भ में राष्ट्रीय स्तर पर नेपस्काप सदस्यों की मीटिंग हमारे बैंक में दिनांक 26-27 सितंबर 2015 को आहूत किया जाना प्रस्तावित है। साथ ही कुछ महत्वपूर्ण निर्णय भी बैंक हित में लिये गये जिनमें से एक बैंक का भवन नई राजधानी में बनवाने हेतु वास्काब संस्था को नियुक्त किया गया।

जैसा की वर्तमान समय में बैंकिंग व्यवसाय में ई-बैंकिंग के माध्यम से व्यापक परिवर्तन आया है। यदि ग्राहक बैंक आकर कोई लेन-देन करता है तो इस पर लगभग 50/- खर्चा होता है परंतु यदि वह ई-बैंकिंग के माध्यम से करेगा तो मात्र 10/- लगभग खर्च होता है। बैंकिंग क्षेत्र में प्रतिस्पर्धा में इस कदर परिवर्तन आया है कि 80 के दशक में बैंक ग्राहक को व्यक्ति के रूप में देखता था, वर्ष 2000 आते तक प्रत्येक व्यक्ति को ग्राहक के रूप में एवं वर्तमान में प्रत्येक ग्राहक को बैंक कर्मी के रूप में देख रहे हैं।

निरंतर विकास:-हमारा मूल मंत्र "निरंतर विकास" पर आगे बढ़ते हुए वर्ष 2001 में हमारी कार्यशील पूंजी रु. 494.76 करोड़ एवं बैंक मात्र रु. 9.89 लाख का लाभ था वह मार्च 2015 में बढ़कर राशि रु. 4214.12 करोड़ कार्यशील पूंजी एवं राशि रु. 19.86 करोड़ लाभ की स्थिति में आ गया।

आत्म निर्भरता की ओर:-मैं समझता हूं कि किसी संस्था के विकास में उनके कुशल एवं दक्ष कर्मचारी / अधिकारी एवं निष्पक्ष / सुप्रबंधन जिम्मेवार होता है। अब मैं बैंक द्वारा वर्ष 2014-15 में अर्जित वित्तीय और व्यवसायिक उपलब्धियों का संक्षिप्त उल्लेख करना चाहता हूं:-

महत्वाकांक्षी योजनायें:-

आभार:-अंत में बैंक की ओर से प्रदेश के मुख्य मंत्री माननीय श्री रमन सिंह जी,, प्रदेश के कृषि और सहकारिता विभाग एवं वित्त मंत्रालय विशेषकर प्रमुख सचिव, कृषि उत्पादन आयुक्त, छŸाीसगढ़ शासन, सचिव सहकारिता, छŸाीसगढ़ शासन, तथा नाबार्ड, भारतीय रिजर्व बैंक का आभार व्यक्त करना चाहता हूँ जिनके प्रोत्साहन एवं मार्गदर्शन ने हमारी संस्था को एक प्रगतिशील पथ पर ला खड़ा किया है।

समापन में मै शीर्ष बैंक के सलाहकारों, अधिकारियों, कर्मचारियों, संवर्ग अधिकारियों, जिला बैंक के अधिकारियों, कर्मचारियों एवं समिति प्रबंधकों को धन्यवाद देता हूँ जिनकी समर्पित सेवाओं प्रयासों एवं सहयोग से बैंक गौरवशाली मुकाम पर पहुंचा है।

धन्यवाद ।

(अशोक बजाज)
अध्यक्ष